Featured Posts

[Uttarakhand%20District%20Cooperative%20Bank][feat1]

Uttarakhand UKPSC ACF Online test Series 2019 - Online Mock Test

12:35:00

Uttarakhand UKPSC ACF Online test Series 2019

As you know Uttarakhand Public Service Commission (UKPSC) has recently issued Notification of UKPSC Assistant Conservator of Forest Exam-2019. Candidates who have applied for the ACF post can check here detail about UKPSC ACF Online test Series 2019 or Online Mock Test for Uttarakhand ACF Exam 2019, which will be conducted by Civils High Education & Exam Practice

UKPSC Uttarakhand acf online test series 2019



Uttarakhand acf online test series 2019


Exam Practice and Civils High Education is conducting Online Mock Test for UKPSC Assistant Conservator of Forest (ACF ) Exam 2019. Interested Candidates can Register themselves for Free UKPSC ACF Online Demo Test.

Click Here to register for Demo Test 

Silent Features (UKPSC ACF Online test Series 2019 ):

  • UKPSC ACF online test series will be bilingual( Hindi & English Medium). 
  • Detailed Solution and Analysis report will be available in PDF format.
  • Doubt session will be available on Youtube.
  • Important Current Affairs MCQ PDF
UKPSC ACF Online Mock Test Series Scheduled 
  1. 25 August 2019: Polity + Geography + History +Economy (General Studies) 
  2. 31 August 2019: Math And Reasoning 
  3. 07 September 2019: Current Affairs +Environment +Uttarakhand GK 
  4. 14 September 2019: Full Lenght Test 
  5. 21 September 2019: Full Lenght Test 



Fee Detail: Rs 350 ( 5 + 1 Free Demo Test) 

Uttarakhand UKPSC ACF Online test Series 2019 - Online Mock Test Uttarakhand UKPSC ACF Online test Series 2019 - Online Mock Test Reviewed by uksssc on 12:35:00 Rating: 5

Uttarakhand High Court vacancy 2019 - Apply Online

10:28:00

Uttarakhand High Court vacancy 2019 - Apply Online


Uttarakhand Board of Technical Education UBTER has issued Uttarakhand High Court vacancy 2019 notification on its official website (UBTER Official website www.ubter.in) for various post in Civil High court of Uttarakhand. Candidates who are eligible for the Uttarakhand High Court recruitment 2019 criteria can apply online through UBTER official website.

For More details about High Court Group D recruitment Uttarakhand High Court Salary, Exam pattern Syllabus, Exam date, Admit Card and Study notes read the below article.

Uttarakhand High Court vacancy 2019 - Apply Online

Uttarakhand High Court vacancy 2019


  • Notification Date: 16 August 2019 (Friday)
  • UBTER Online Application Starting Date: 17 August 2019 (Saturday)
  • Uttarakhand High Court Fees Payment Last Date: 19 September 2019
  • Uttarakhand High Court Exam Date: 13 October 2019

Compulsory Qualification and Educational Qualification- 

  • Candidate should have a domicile / permanent residence certificate holder of any district of Uttarakhand. 
  • Candidate should have eight passed.

 Age: - The age of the candidate should not be less than 18 years and not more than 42 years as on 1-1-2019. 


Application Fee : 

  1. GEN/OBC:  600/-
  2. ST/ SC /EWS: 400/-
  3. PWD: No Application Fee
Uttarakhand High Court Group D vacancy PayScale /Salary:
  1. CLASS-IV
  2. Rs 18000-56900
  3. LEVEL1



GROUP D RECRUITMENT IN STATE JUDICIARY UTTARAKHAND (CIVIL & FAMILY COURTS)

Uttarakhand High Court vacancy 2019 - Apply Online Uttarakhand High Court vacancy 2019 - Apply Online Reviewed by uksssc on 10:28:00 Rating: 5

History question in Hindi भारत का इतिहास

21:18:00

History question in Hindi भारत का इतिहास

इस लेख में हमने भारतीय इतिहास के ऐतिहासिक घटनाओं पर आधारित  history question in hindi दिया है जो UPSC, SSC, State Services, NDA, CDS और Railways जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है।
भारत का इतिहास Important History question in Hindi

भारत का इतिहास Important One Liner History question in Hindi 

1. हड़प्पा के किस स्थल से एक उन्नत जल-प्रबंधन प्रणाली का पता चलता है? - धौलावीरा
2. हड़प्पा के मिट्टी के बर्तन पर सामान्यतः किस रंग का उपयोग हुआ था? - लाल
3. वस्त्र बुनने की कला किस काल में प्रारम्भ हुई? - नव पाषाण काल में
4. पहिया बनाना किस काल में प्रारम्भ हुआ? - नव पाषाण काल में
5. Ωग्वेद में ‘अहन्या’ शब्द का प्रयोग किसके लिए हुआ है? - दूध देने वाली गाय के लिए
6. ईरानी भाषा के किस ग्रंथ की तुलना भारतीय ग्रंथ ऋग्वेद से की जाती है? - जेंद अवेस्ता की
7. किस वेद को ‘भारतीय संगीत का जनक’ कहा जाता है? - सामवेद
8. वैदिक साहित्य की आधारभूत इकाई कौन-सी संस्था थी? - कुल
9. हर्यंक वंश के किस शासक ने वैवाहिक संबंध स्थापित कर अपने साम्राज्य का विस्तार किया? - बिम्बिसार ने
10. मगध पर शासन करने वाला प्रथम गैर क्षत्रिय वंश कौन-सा था? - शिशुनाग वंश
11. श्रवणबेलगोला में गोमतेश्वर की मूर्ति का निर्माण किसने करवाया? - चामु.ड राय ने
12. दिलवाड़ा के जैन मंदिरों का निर्माण किसने करवाया था? - चालुक्यों ने
13. संगम युग का ग्रंथ ‘मणिमेखलै’ किस धर्म की श्रेष्ठता को प्रतिपादित करता है? - बौह् धर्म
14. महात्मा बुह् की मृत्यु के बाद उनके शरीर के अवशेषों पर कितने स्तूपों का निर्माण किया गया? - आठ
15. अशोक की वह पत्नी कौन थी जिसने उसको प्रभावित किया था? - कारुवाकी
16. अशोक ने अपने सभी अभिलेखों में एकरूपता से किस प्राœत का प्रयोग किया था? - मागधी
17. मौर्य काल में चा°दी के सिक्का को क्या कहा जाता था? - कार्षापण/पण/धरण
18. मौर्य काल में ‘एग्रोनोमई’ किसे कहा जाता था? - सड़क निर्माण अधिकारी को
19. सातवाहन वंश के किस शासक ने ‘वेणाकटक’ की उपाधि धारण की थी? - गौतमीपुत्री शातकर्णी
20. शून्यवाद के प्रवर्तक नागार्जुन किसके समकालीन थे? - गौतमीपुत्र शातकर्णी
21. ब्र२ा, विष्णु तथा महेश की पूजा किस काल में प्रारम्भ हुई? - गुप्त काल में
22. किस काल को ‘भारतीय संस्कृति का स्वर्ण युग’ कहा जाता है? - गुप्त काल में
23. किस काल में ‘संस्कृति  साहित्य का स्वर्ण काल’ कहा जाता है? - गुप्त काल को
24. ‘आर्यभट्टीय’ किसकी रचना है? - आर्यभट्ट की
25. किसके शासन काल में चीनी यात्री ह्वेनसांग ने भारत की यात्रा की? - हर्षवर्धन के
26. किसे ‘यात्रियों में राजकुमार’, ‘नीति का पंडित’ तथा ‘वर्तमान शाक्यमुनि’ कहा जाता है? - ह्वेनसांग को
27. कांची के ‘कैलाशनाथ मंदिर’ का निर्माण किसने करवाया? - नरसिंहवर्मन द्वितीय ने
28. कांची के ‘मुक्तेश्वर मंदिर’ का निर्माण किसने करवाया? - नन्दिवर्मन द्वितीय ने
29. चोल वंश के किस शासक ने ‘नरकेसरी’ की उपाधि धारण की? - विजयालय ने
History question in Hindi भारत का इतिहास History question in Hindi भारत का इतिहास Reviewed by uksssc on 21:18:00 Rating: 5

UP GK in Hindi - उत्तर प्रदेश सामान्य ज्ञान

10:15:00

UP GK in Hindi - उत्तर प्रदेश सामान्य ज्ञान 

UP GK in Hindi  – यहाँ Uttar Pradesh General Knowledge (GK Quiz) से सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारी और Uttar Pradesh GK Objective Question and Answer  दिए गए हैं .

Uttar Pradesh GK in hindi Objective Question and Answer

UP GK in Hindi - उत्तर प्रदेश सामान्य ज्ञान

 उत्तर प्रदेश UP GK in Hindi - उत्तर प्रदेश सामान्य ज्ञान 
राज्य
उत्तर प्रदेश
राजधानी
लखनऊ (1921 से)
पूर्व नाम
संयुक्त प्रान्त
राज्य की विधिक स्थापना
1 November, 1956
राजकीय भाषा
हिन्दी (दुसरी उर्दू)
राजकीय पशु
बारहसिंगा
राजकीय पक्षी
सारस अथवा क्रौंंच
राजकीय वृक्ष
अशोक
राजकीय पुष्प
पलाश (जनवरी 2011 से)
राजकीय चिन्ह
एक वृत्त मे 2 मछली, 1 तीर-धनुष (यह चिन्ह 1938 से स्वीकृत है)
विधान मण्डल
द्विसदनात्मक
विधान सभा सदस्यो की संख्या
403+1 = 404 (एक एंग्लो इण्डियन)
विधान परिषद् सदस्यो की संख्या
99+1 = (एक एंग्लो इण्डियन)
लोक सभा सदस्यो की संख्या
80
राज्य सभा सदस्यो की संख्या
31
उच्च न्यायालय
इलाहाबाद (खण्डपीठ लखनऊ)
सम्भागो की संख्या
18
जिलो की संख्या
75
महानगर (10 लाख से अधिक जनसंख्या)
6
तहसीलो की संख्या
316
ब्लाको की संख्या
821
नगर एवं नगर समूह
630
नगर निगमे – 13
नवीन निगम – saharanpur  2009
नगर पालिका परिषद
194
नगर पंचायते
423
जिला पंचायते
75
क्षेत्र पंचायते
821
ग्राम पंचायते
51,914
आबाद ग्राम
97,941
कुल ग्राम
1,06,774
प्रथम मुख्यमंत्री
पं0 गोविन्द बल्लभ पंत
प्रथम राज्यपाल
श्री मती सरोजनी नायडू
प्रथम विधान सभा का गठन
8 March, 1952
प्रथम विधान सभा अध्यक्ष
राजर्षि पुरुषोत्तम दास डण्डन
प्रथम विधान परिषद सभापति
चन्द्रभान
प्रथंम मुख्य न्यायाधीश
न्यायमूर्ति कमला कान्त वर्मा
प्रथम महिला मुख्यमंत्री
श्री मती सुचेता कृपलानी
प्रथम दलित महिला मुख्यमंत्री
सुश्री मायावती
प्रथम लोकायुक्त
विश्नम्भर दयाल
प्रथम विश्वविद्यालय
इलाहाबाद विश्वविद्याल्य 1887

उत्तर प्रदेश सामान्य ज्ञान MCQ

यहाँ उत्तर प्रदेश सामान्य ज्ञान (Uttar Pradesh GK Objectve Quetion and Answer ) से सम्बंधित  बहुविकल्पीय प्रश्न उत्तर को  क्रम से दिया गया है ,  UPSSSC Group C , UP PCS आदि प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहें  अभ्यर्तीयो के लिए उपयोगी हो सकता है .


1. मोहम्मद वसी को किस स्पर्धा में श्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए ‘लक्ष्मण पुरस्कार’ से पुरस्कृत किया गया है?

[A] शूटिंग

[B] भारोत्तोलन

[C] एथलेटिक्स

[D] बेस्ट फिजिक


2. निम्न में से किस खिलाडी को भारोत्तोलन में श्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए ‘लक्ष्मण पुरस्कार’ से पुरस्कृत किया गया है?

[A] एस.एन. यादव

[B] ललित पटेल

[C] रामेंद्र कुमार शर्मा

[D] रनवीर सिंह


3.‘लक्ष्मण पुरस्कार’ से पुरस्कृत किस खिलाडी का संबंध क्रिकेट से नही है?

[A] राहुल सप्रू

[B] ज्ञानेंद्र पांडेय

[C] आनंद शुक्ला

[D] अभिन्न गुप्ता

4. ‘लक्ष्मण पुरस्कार’ से पुरस्कृत खिलाड़ी तथा खेल के संबंध में निम्न में से कौनसा युग्म सुमेलित नहीं है?

[A] अनुदय यादव—शूटिंग

[B] उमेश प्रसाद—तैराकी

[C] भैया लाल—एथलेटिक्स

[D] मुश्ताक अली—फुटबॉल


5.‘लक्ष्मण पुरस्कार’ से पुरस्कृत आर.पी. सिंह का संबंध किस खेल से है?

[A] क्रिकेट

[B] हॉकी

[C] फुटबॉल

[D] बैडमिंटन


6.‘लक्ष्मण पुरस्कार’ से पुरस्कृत किस खिलाडी का संबंध बैडमिंटन से नही है?

[A] सुशांत सक्सेना

[B] मुरारीलाल मेहरोत्रा

[C] सुरेश गोयल

[D] ज्ञानेंद्र पांडेय


7.निम्न में से किस खिलाडी को एथलेटिक्स में श्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए ‘लक्ष्मण पुरस्कार’ से पुरस्कृत किया गया है?

[A] रमेख कुमार यादव

[B] रविंद्रलाल पांडेय

[C] प्रमोद तिवारी

[D] उपर्युक्त सभी


8. ‘लक्ष्मण पुरस्कार’ से पुरस्कृत किस खिलाडी का संबंध हॉकी से नही है?

[A] अशोक कुमार सिंह

[B] अवनीश कुमार यादव

[C] सैयद अली

[D] नेहा सिंह


9.‘लक्ष्मण पुरस्कार’ या ‘रानी लक्ष्मीबाई पुरस्कार’ से पुरस्कृत होने वाले खिलाडि़यों को कितनी धनराशि पुरस्कार स्वरूप प्रदान की जाती है?

[A] 15 हजार रुपए

[B] 20 हजार रुपए

[C] 25 हजार रुपए

[D] 30 हजार रुपए

10.निम्न में से कौन ‘लक्ष्मण पुरस्कार’ प्राप्त करने की अर्हता नहीं है?

[A] खिलाड़ी उत्तर प्रदेश का मूल निवासी होना चाहिए

[B] खिलाड़ी कम-से-कम ग्रेजुएट होना चाहिए

[C] खिलाड़ी कम-से-कम तीन वर्ष तक प्रदेशीय टीम का सदस्य रहा हो

[D] उसका खेल उत्तम होना चाहिए



UP GK in Hindi - उत्तर प्रदेश सामान्य ज्ञान UP GK in Hindi - उत्तर प्रदेश सामान्य ज्ञान Reviewed by uksssc on 10:15:00 Rating: 5

उत्तराखंड सामान्य ज्ञान: प्राचीन काल (Ancient history of Uttarakhand GK in Hindi)

23:52:00

उत्तराखंड सामान्य ज्ञान: प्राचीन काल (Ancient history of Uttarakhand GK in Hindi)

यहाँ हम उत्तराखंड सामान्य ज्ञान: प्राचीन काल (Ancient history of Uttarakhand GK in Hindi) का संक्षिप्त विवरण दे रहे हैं जो UKPSC, UKSSSC, State Services, UBTER,  जैसी राज्य स्तरीय  प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए बहुत ही उपयोगी है|

उत्तराखंड ऐतिहासिक काल को निम्न तीन भागो में बांटा जा सकता है 


उत्तराखंड सामान्य ज्ञान प्राचीन काल (Ancient history of Uttarakhand GK in Hindi)


  • कुणिन्द राजवंश उत्तराखंड पर शासन करने वाली पहली राजनैतिक शक्ति थी |
  • कुणिन्द उत्तराखंड पर शासन का श्रोत उनकी मुद्राओं से ज्ञात होता है 
  • महाभारत व अष्टधयाई में कुणिन्द के बारे में सर्वाधिक सूचना मिलती है , महाभारत में अनेक स्थानों पर कुणिन्द शब्द का उल्लेख  है। 
  • अमोघभूति  कुणिन्द राजवंश में सबसे प्रतापी राजा था। जिसकी मुद्रायें पश्चिम में सतलज व्यास से लेकर अलकनन्दा तक , तथा दक्षिण में सुनेत तथा बेहत तक मिली है। 
  • कुणिन्द शासकों की  सर्वाधिक मुद्रायें अमोघभूति शासक की है।  ये चाँदी और ताम्र दोनों धातुओं की थी।  जबकि अन्य शासको की मुद्रायें केवल तांबे की थी। 
  • अशोक के कालसी अभिलेख से ज्ञात होता है की कुणिन्द प्रारंभ में मौर्यों के अधीन थे |
  • कुणिन्द वंश का सबसे शक्तिशाली राजा अमोधभूति था |
  • अमोधभूति की मृत्यु के बाद उत्तराखंड के मैदानी भागो पर शको ने अधिकार कर लिया , शको के बाद तराई वाले भागो में कुषाणों ने अधिकार कर लिया |
  • उत्तराखंड में यौधेयो के शाशन के भी प्रमाण मिलते है इनकी मुद्राए जौनसार बाबर तथा लेंसडाउन ( पौड़ी ) से मिली है |
  • ‘ बाडवाला यज्ञ वेदिका ‘ का निर्माण शीलवर्मन नामक राजा ने किया था , शील वर्मन को कुछ विद्वान कुणिन्द व कुछ यौधेय मानते है |
  •  


कर्तपुर राज्य

  1. कर्तपुर राज्य के संस्थापक भी कुणिन्द ही थे कर्तपुर में उत्तराखंड , हिमांचल प्रदेश तथा रोहिलखंड का उत्तरी भाग सामिल था |
  2. कर्तपुर के कुणिन्दो को पराजित कर नागो ने उत्तराखंड पर अपना अधिकार कर लिया |
  3. नागो के बाड़ कन्नोज के मौखरियो ने उत्तराखंड पर शासन किया |
  4. मौखरी वंश का अंतिम शासक गृह्वर्मा था हर्षवर्धन ने इसकी हत्या करके शासन को अपने हाथ में ले लिया |
  5. हर्षवर्धन के शासन काल में चीनी यात्री व्हेनसांग उत्तराखंड भ्रमण पर आया था |



कार्तिकेयपुर राजवंश –

  1. हर्ष की मृत्यु के बाद उत्तराखंड पर अनेक छोटी – छोटी शक्यियो ने शासन किया , इसके पश्चात 700 ई . में कर्तिकेयपुर राजवंश की स्थापना हुइ , इस वंश के तीन से अधिक परिवारों ने उत्तराखंड पर 700 ई . से 1030 ई. तक लगभग 300 साल तक शासन किया |
  2. इस राजवंश को उत्तराखंड का प्रथम ऐतिहासिक राजवंश कहा जाता है |
  3. प्रारंभ में कर्तिकेयपुर राजवंश की राजधानी जोशीमठ (चमोली ) के समीप कर्तिकेयपुर नामक स्थान पर थी बाद में राजधानी बैजनाथ (बागेश्वर ) बनायीं गयी |
  4. इस वंस का प्रथम शासक बसंतदेव था बसंतदेव के बाद के राजाओ के बारे में कोई जानकारी नहीं मिलाती है इसके बाद खर्परदेव के शासन के बारे में जानकारी मिलती है खर्परदेव कन्नौज के राजा यशोवर्मन का समकालीन था इसके बाद इसका पुत्र कल्याण राजा बना , खर्परदेव वंश का अंतिम शासक त्रिभुवन राज था |
  5. नालंदा अभिलेख में बंगाल के पाल शासक धर्मपाल द्वारा गढ़वाल पर आक्रमण करने की जानकारी मिलती है इसी आक्रमण के बाद कार्तिकेय राजवंश में खर्परदेव वंश के स्थान पर निम्बर वंश की स्थापना हुई , निम्बर ने जागेश्वर में विमानों का निर्माण करवाया था
  6. निम्बर के बाद उसका पुत्र इष्टगण शासक बना उसने समस्त उत्तराखंड को एक सूत्र में बांधने का प्रयास किया था जागेश्वर में नवदुर्गा , महिषमर्दिनी , लकुलीश तथा नटराज मंदिरों का निर्माण कराया |
  7. इष्टगण के बाद उसका पुत्र ललित्शूर देव शासक बना तथा ललित्शूर देव के बाद उसका पुत्र भूदेव शासक बना इसने बौध धर्मं का विरोध किया तथा बैजनाथ मंदिर निर्माण में सहयोग दिया |
  8. कर्तिकेयपुर राजवंश में सलोड़ादित्य के पुत्र इच्छरदेव ने सलोड़ादित्य वंश की स्थापना की
  9. कर्तिकेयपुर शासनकाल में आदि गुरु शंकराचार्य उत्तराखंड आये उन्होंने बद्रीनाथ व केदारनाथ मंदिरों का पुनरुद्धार कराया | सन 820 ई . में केदारनाथ में उन्होंने अपने प्राणों का त्याग किया |
  10. कर्तिकेयपुर शासको की राजभाषा संस्कृत तथा लोकभाषा पाली थी |
उत्तराखंड सामान्य ज्ञान: प्राचीन काल (Ancient history of Uttarakhand GK in Hindi) उत्तराखंड सामान्य ज्ञान: प्राचीन काल (Ancient history of Uttarakhand GK in Hindi) Reviewed by uksssc on 23:52:00 Rating: 5

UKSSSC Group C Sahayak Krishi Adhikari previous year paper: Download PDF

09:34:00

UKSSSC Group C Sahayak Krishi Adhikari previous year paper: Download PDF 

Dear Readers 
Today we are sharing Uttarakhand group c (UKSSSC ) Assistant Agriculture Officer/सहायक कृषि अधिकारी वर्ग-3 previous year paper PDF. Candidates who are appearing in UKSSSC group c Sahayak Krishi Adhikari recruitment 2019 exam for 280 posts may download the paper and know more about the exam pattern of the exam.



UKSSSC Group C Sahayak Krishi Adhikari previous year paper Download PDF



Uttarakhand Group C Sahayak Krishi Adhikari Previous Year Paper: Download PDF


Official Website 





Post Name/ Type/ Department Name


Group C Assistant Agriculture Officer/सहायक कृषि अधिकारी
Uttarakhand Agriculture Department


Catagory 


Previous Year Paper

Exam Date


10 January 2017

Group C Sahayak Krishi Adhikari previous year paper




UKSSSC Recruitment 2019


UKSSSC Group C Sahayak Krishi Adhikari previous year paper: Download PDF UKSSSC Group C Sahayak Krishi Adhikari previous year paper: Download PDF Reviewed by uksssc on 09:34:00 Rating: 5

उत्तराखंड समूह ग सहायक कृषि अधिकारी वर्ग-3 भर्ती 2019 - 280 पद

05:45:00

उत्तराखंड समूह ग  सहायक कृषि अधिकारी वर्ग-3 भर्ती 2019 - 280 पद 

उत्तराखण्ड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UKSSSC) द्वारा कृषि विभाग के अन्तर्गत समूह ‘ग’ के उत्तराखंड समूह ग  सहायक कृषि अधिकारी वर्ग-3 भर्ती ( UKSSSC Sahyak Krishi Adhikari Vacancy 2019) के रिक्त 280पदों पर सीधी भर्ती द्वारा चयन हेतु ऑन लाइन आवेदन-पत्र आमन्त्रित किए गये  हैं। इच्छुक अभ्यर्थी आयोग की वेबसाइट पर दिनांक 19.09.2019 तक ऑनलाइन  आवेदन कर सकते हैं।


UKSSSC Sahyak Krishi Adhikari recruitment 2019


UKSSSC Sahyak Krishi Adhikari Vacancy 2019

uksssc sahyak krishi adhikari group 3 vacancy 2019



विज्ञापन प्रकाशन की तिथि

02.08.2019


Online आवेदन की प्रारम्भ तिथि

06.08.2019


Online आवेदन की अन्तिम तिथि

19.09.2019


परीक्षा शुल्क जमा करने की अंतिम तिथि


21.09.2019

लिखित परीक्षा का अनुमानित समय

माह दिसम्बर, 2019


वेतनमानः-रू0 25,500-रू0 81,100 (लेवल-04)

पद का स्वरूपः-अराजपत्रित/स्थायी/अंशदायी पेंशन युक्त।

शैक्षिक अर्हताः-किसी मान्यता प्राप्त संस्था या विश्वविद्यालय से कृषि में स्नातक उपाधि (बी0एस0सी0 एग्रीकल्चर)।



UKSSSC Group C
Sahayak Krishi Adhikari Recruitment 2019


Online Application Started

06.08.2019


Online Application Last Date

19.09.2019


Fee Payment Last Date


21.09.2019

UKSSSC Assistant Agriculture officer Exam Date

December 2019



UKSSSC Group C
Sahayak Krishi Adhikari Recruitment 2019 : Important Link


Syllabus & Exam Pattern



Previous Year Paper



Online Mock Test



UKSSSC Group C
Sahayak Krishi Adhikari Recruitment 2019 : Important Link


Online Application Form (OTR)




Download Notification



Official Website


उत्तराखंड समूह ग सहायक कृषि अधिकारी वर्ग-3 भर्ती 2019 - 280 पद उत्तराखंड समूह ग  सहायक कृषि अधिकारी वर्ग-3 भर्ती 2019 - 280 पद Reviewed by uksssc on 05:45:00 Rating: 5



Powered by Blogger.