Today OfferFree Coupon Codes, Promotion Codes, Discount Deals and Promo Offers For Online Shopping Get Offer

भारत की प्रमुख क्रेडिट रेटिंग एजेंसी : Credit rating agencies India

भारत की प्रमुख क्रेडिट रेटिंग एजेंसी : Credit rating agencies India

क्रेडिट रेटिंग किसी भी देश, संस्था या व्यक्ति आदि की कर्ज लेने या उसे चुकाने की क्षमता का मूल्यांकन होती है. क्रेडिट रेटिंग एजेंसियां परोक्ष रूप से यह बतातीं है कि देश, संस्था या व्यक्ति आर्थिक रूप से कितना मजबूत है और उसको कितना कर्ज देना खतरनाक है या नही. अर्थात वह कितना कर्ज चुकाने की क्षमता रखता है। भारत की प्रमुख क्रेडिट रेटिंग एजेंसी (Credit rating agencies India) भारत में मुख्यतः चार क्रेडिट रेटिंग एजेंसियाँ काम कर रही हैं, जो निम्नलिखित हैं-

भारत की प्रमुख क्रेडिट रेटिंग एजेंसी : Credit rating agencies India

भारत  की मुख्य क्रेडिट रेटिंग एजेंसी (List of credit rating agencies)

क्रिसिल CRISIL:- यह भारत की पहली क्रेडिट रेटिंग एजेंसी है, जिसने अपना परिचालन 1988 में शुरू किया। 

ICRA:- इस एजेंसी की स्थापना 1991 में एक स्वतंत्रा और व्यावसायिक निवेश सूचना एवं क्रेडिट रेटिंग एजेंसी के रूप में अग्रणी वित्तीय संस्थानों, वाणिज्यिक बैंकों और वित्तीय कंपनियों द्वारा की गई। 

केयर CARE:- इस रेटिंग एजेंसी ने अपना परिचालन 1993 में शुरू किया। 

डीसीआर:- इस क्रेडिट रेटिंग एजेंसी को 1996 में स्थापित किया गया। 

सिबिल CIBIL:- यह 2000 में स्थापित भारत का पहला क्रेडिट सूचना ब्यूरो है जो कि उपभोक्ताओं और उधारककर्ताओं  को क्रेडिट संबंधी सूचना प्रदान करता है। 

विश्व की मुख्य क्रेडिट रेटिंग एजेंसी (List of credit rating agencies in World)

फिच  रेटिंग एजेंसीः इसकी स्थापना 1913 में  जाॅन नोल्सपिफच ने की थी। फिच  रेटिंग एजेंसी की प्रणाली को पूरे विश्व में मानक के तौर पर अपनाया गया है। यह यूनाइटेड किंगडम की रेटिंग एजेंसी है।

ञ एस एण्ड पीः एस एण्ड पी अमेरिका की क्रेडिट रेटिंग एजेंसी  है। हेनरी वर्नम पुअर ने अपने पुत्रा हेनरी विलियम के साथ H.V और H.W पूअर कंपनी की स्थापना की। वर्ष 1941 में उन्होंने स्टैंडर्ड एण्ड पुअर्स कंपनी का विलय कर लिया। 

मूडीजः जाॅन मूडी ने 1909 में वित्तीय होल्डिंग कंपनी मूडीज काॅर्पोरेशन की स्थापना की। इसका क्रेडिट रेटिंग एजेंसी  के रूप में परिचालन 1914 के बाद से हुआ।

Post a Comment

0 Comments