Today OfferFree Coupon Codes, Promotion Codes, Discount Deals and Promo Offers For Online Shopping Get Offer

उत्तराखंड सामान्य ज्ञान - प्रमुख धार्मिक स्थल

उत्तराखंड सामान्य ज्ञान  - प्रमुख धार्मिक स्थल

  • पंच  बद्री 
  • पंच  कुण्ड 
  • पंच  धारायें 
  • पंच  शिलाएं 
  • पंच  प्रयाग

पंच  बद्री पंच  कुण्ड पंच  धारायें पंच  शिलाएं पंच  प्रयाग




पंचबद्री
आदि बद्री
योगध्यान बद्री
भविष्य बद्री
विशाल बद्री/बदरीनाथ
वृद्ध बद्री



उत्तराखण्ड के 5 बंद्री आदि गुरू शंकराचार्य द्वारा स्थापित किये गये

आदि बद्री
कर्ण प्रयाग में स्थित यह मंदिर बदरीनाथ भगवान को समर्पित है
यहाँ विष्णु जी के चतुर्भुज रूप की पूजा की जाती है

योगध्यान बद्री
यहाँ योगमुद्रा में स्थित भगवान बद्रीनाथ कीक मूर्ति रखी गयी है

भविष्य बद्री
जोशीमठ में स्थित यह मंदिर नरसिंह अवतार को समर्पित है

विशाल बद्री/बदरीनाथ
विशाला, योगसिद्धा, मुक्तिप्रदा, बद्रीकाश्रम, बद्रीवन, नर नारायण आश्रम आदि नामों से जाना जाता है
बदरीनाथ भारत के चार धामों में से एक है
बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 58 पर स्थित है
बदरीनाथ धाम नर नारायण पर्वतों के मध्य स्थित है
यहाँ स्थित मुख्य प्रतिमा को शंकराचार्य ने नारद कुण्ड से निकलकर मंदिर में स्थापित किया था
इस प्रतिमा को श्रीविग्रह भी कहा जाता है क्योंकि यह मूर्ति खंडित है
मंदिर के मुख्य मूर्ति के पार्श्व में नरनारायण तथा दांयी ओर कुबेर और बांयी ओर नारद जी की मूर्ति है
बदरीनाथ में शंकराचार्य जी वंशज मुख्य पंडित होते हैं जिन्हें रावल कहा जाता है
बदरीनाथ के प्रथम रावल तोटकाचार्य थे
बद्रीनाथ धाम अलकन्दा नदी के तट पर स्थित है
बद्रीनाथ में अलकनन्दा ऋषिगंगा का संगम होता है

•   वृद्ध बद्री
 
यहाँ आदि गुरू शंकराचार्य ने बदरीनाथ की प्रथम मूर्ति रखी थी


पंचकुण्ड
तप्त कुण्ड
मानुषी कुण्ड
त्रिकोण कुण्ड
सत्यपंथ कुण्ड
नारद कुण्ड


पंचधाराएं
प्रहलाद धारा
कूर्म धारा
उर्वशी धारा
भृगु धारा
इन्दु धारा


पंचशिलाएँ
नारद शिला
नरसिंह शिला
मार्कण्डेय शिला
ब्रह्म कपाल शिला
गरूड़ शिला


पंचप्रयाग
विष्णु प्रयाग (चमोली) अलकन्दा+विष्णुगंगा+धौली गंगा
नन्द प्रायग (चमोली) अलकन्दा+नंदाकिनी
कर्ण प्रयाग (चमोली) अलकन्दा +पिण्डर
रूद्रप्रयाग (रूद्रप्रयाग) अलकन्दा+मंदाकिनी
देवप्रयाग (टिहरी) अलकनन्दा(बहु)+भागीरथी(सास)

Post a Comment

1 Comments

  1. Sir
    आपके सभी पोस्ट बहुत अच्छे होते हैं आपसे अनुरोध है कि हिंदी व्याकरण के नोट्स भी बनायें उत्तराखंड की परीक्षाओं के अनुसार हिंदी भी पाठ्यक्रम में है

    ReplyDelete